Giloy Ka Fayda | गिलोय का फायदे क्या क्या है ?

giloy ka fayda – आज हम बात करेंगे गिलोय का फायदा के बारे में गिलोय क्या है और गिलोय का फायदे क्या है इन सब के बारे में हम आज संपूर्ण जानकारी देंगे। गिलोय के फायदे हमारे शरीर के लिए क्या है और गिलोय किस रोग में हमें फायदा दिलाता है। आज हम गिलोय के औषदीय गुण के बारे में आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

आयुर्वेद के इतिहास में गिलोय एक मात्रा ऐसी लता है जिसका फायदा हर किसी रोग में हमें मिलता है अगर हम आसान भासा में बताये तो यह आज के ज़माने की संजीबनि बूटी है। जो हर एक रोग में फायदेमंद है और यह बहुत ही कारगर है हमारे शरीर के हर एक अंग के लिए हम आज की इस पोस्ट में गिलोय के बारे में हर एक महत्वा पूर्ण जानकारी देंगे और बताएँगे की गिलोय का सेवन कैसे करते है और गिलोय क्या है यह कैसे दीखता है इसके लते को लगते कैसे है और इसके क्या क्या फायदे है ये सब हम आपको बताएँगे ।

गिलोय क्या है ? | Giloy kya hai ?

Giloy kya hai ?: गिलोय एक लता है जिसका Botanical नाम Tinospora cordifolia है । इसके अलावा इसे भारत के अलग अलग जगह पर इसे अलग अलग नाम से जाना जाता है जिसे की मधुपर्णी, गुडुची , अमृता , रासायनि जैसे कुछ नाम से जाना जाता है और यह दिखने में इसके पत्ते कुछ सुपारी / कसेली के पत्ते जैसे दीखते है और यह एक लता है जो पेड़ो से लिप्त रहता है।

giloy ka ped kaisa hota hai ?

गिलोय के पत्ते दिखने में एकदम सुपारी / कसेली के पत्ते जैसे दीखते है और यह एक लेट जैसा दिखने में होता है यह आपको हर जगह किसी पेड़ से लिपटा हुआ मिलेगा। गिलोय के लत्ते बारिश के मौषम में ज्यादा नजर आते है और यह ज्यादार जगह बिना लगाए उग जाते है गिलोय को आप ऊपर दिए गए फोटो की मदद से पहचान सकते है। गिलोय भारत में लोग अपने घर के बगीचे और Balcony में लगाना पसंद करते है क्यूंकि इसका घर में होना भी बास्तुशास्त्र के हिसाब से सुभब होता है इसलिए इसे लोग अपने घर में लगाना पसंद करते है।

giloy ka fayda | गिलोय का फायदे क्या क्या है ?

दोस्तों गिलोय बहुत ही उपकारी है हमारे शरीर के लिए इसमें बहुत से गुण है जो हमारे शरीर के हर हिस्से के लिए लाभदायक है अगर हम गिलोय का सेवन रोज करते है तो गिलोय की मदद से हमारे सरीर में हर Immunity की level बढ़ी रहती है और आगे होने वाली बीमारी से छुटकारा डालता है। गिलोय के के क्या क्या फायदे है इसके बारे में मै आपको बहुत ही बिस्तर से बताऊंगा।

और पढ़े : खशी का घरेलु उपचार

गिलोय से होगा Weight loss : दोस्तों आपके शरीर के बजन बढ़ने का कारन है आपके शरीर का digestion सही ढंग से न होना यानि की हमारे शरीर में Toxins इकठ्ठा होना शुरू हो जाता है जिसकी वजह से हमारा वजन बढ़ने लगता है। लेकिन अगर आप हर दिन गिलोय का सेवन करते है तो गिलोय आपके Digestion system को improve करता है जिसकी वजह से धीरे धीरे आपका वजन अपने आप से normal होने लगता है लेकिन ऐसा तभी होगा जब आप हर दिन एक से दो चम्मच गिलोय का सेवन करते है तो।

गिलोय से होगा बुखार का इलाज : दोस्तों बुखार दो वजह से होता है जिसमे पहला होता है Internal factor और दूसरा होता है External factor . दोस्तों internal factor की वजह से बुखार तब होता है जब हमारे body का digestion system ख़राब हो जाता है और हमारा body toxin produce करने लगता है इसकी वजह से हमें बुखार आता है। External factor की वजह से हमें बुखार तब आता है जब हम बदलते मौषम का शिकार होते है , बारिश में भीगना , बहुत प्रकार और अलग अलग जगह का पानी पीना इन सब वजह से हमें बुखार होती है। गिलोय इन दोनों ही कंडीशन में आपके digestion को improve करता है अपने Dipam pachan prakriya से और साथ ही साथ गिलोय रसायन होता है तो गिलोय आपके सरीर में हुए बुखार को काम करता है।

गिलोय फायदेमंद है Diabetes , High choloestrol और Liver disease जैसे बीमारी के लिए : गिलोय Diabetes , High choloestrol , और Liver disease जैसे बीमारी के लिए बहुत फायदेमंद है क्युकी गिलोय का सेवन करने से गिलोय आपके Metabolism को improve करता है अपने Dipam pachan properties से । Deepam pachan properties आपके digestion को improve करता है और आपके Metabolic रेट को बढ़ाता है और metabolic से होने वाली बीमारियों से बचता है।

जोड़ो के दर्द से छुटकारा : गिलोय आपके शरीर के हर अंग के दर्द से छुटकारा दिलाता है क्यों की गिलोय में Vaat shamak जैसे properties होती है जिससे हमें जोड़ो के दर्द से छुटकारा मिलता है।

खांसी से छुटकारा : गिलोय आपको खांसी से राहत दिला सकता है क्यों की गिलोय में होती है Vaat और Cough shamak जैसे properties हो आपको गले में होने वाली खांसी से छुटकारा दिलाएगी।

और पढ़े : अपने नाम का ringtone बनाना सीखे

बाल और skin के लिए गिलोय है फायदेमंद : गिलोय का पेस्ट बनाकर आप अगर अपने बाल और skin पर Face mask की तरह लगाकर रखते है तो आपको चेहरे पर होने वाली झाइयां और कील मुहासे से आपको छुटकारा मिलेगी । बाल में जब इसे आप लगाते है तो बालो में आपके केराटिन की मात्रा बढ़ती है और आपके बाल स्वस्थ और घने हो जाते है।

आँखों की रौशनी को बढ़ता है गिलोय : गिलोय का सेवन करने से आपके आँखों की रौशनी बढ़ जाती है और आपके आँखों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।

गिलोय से होता है Memory sharp : अगर आप गिलोय को बच्चे को सेवन करते है तो यह बच्चो की Memory को sharp करता है जिनसे उनकी याद्दाश बढ़ जाती है और वे कोई भी चीज को जल्दी यद् कर पते है।

चर्म रोग के लिए है फायदेमंद : जिन भी लोगो को Exima , Skin fungus और भी कई तरह के चर्म रोग होते है वह गिलोय , निम् के पत्ते , अमले को पानी में उबाल कर उसका पानी पिने से इन सब रोगो से छुटकारा मिलता है। और वह बिलकुल ही निरोग हो जाते है यह तीन चीजों का सेवन हर हफ्ते अगर हम करते है तो हमें चर्म रोग जेशी बीमारियां कभी नहीं होती है।

डेंगू जैसे बीमारी को जड़ से काम करे : डेंगू एक ऐसी बीमारी है जिसके कारन बहुत ही लोग मरते है लेकिन अगर आप गिलोय , पपीते का पत्ता और नेपाली चिरैता इन तीनो को सामान मात्रा में मिलकर इनको एक गिलास पानी में तब तक उबले जब तक एक गिलास पानी काम हो कर आधा गिलास रह जाये फिर इसको छान कर दिन में तीन बार तक इसको पिए जिससे डेंगू जैसी बीमारी कभी होती नहीं है अगर हुई है तो एकदम जड़ से ख़तम हो जाएगी।

Immunity बढ़ाये गिलोय : गिलोय एक रसायन है इसलिए हैब हम इसका सेवन हर दिन खली पेट इसको उबाल कर इसका पानी पिटे है तो हमारी immunity बढ़ जाती है और कई बड़े बड़े बीमारियों से बच जाते है ।

दोस्तों ऐसे तो गिलोय हर रोग में काम आता है लें ये थे गिलोय कुछ ऐसे फायदे जिन्हे आपका जानना बहुत ही जरुरी है क्यों की हम पता नहीं कितने रूपए Allopathy के दवाइया में ख़तम कर देते है लेकिन अगर हमारे पास आयुर्वेद की थोड़ी सी भी ज्ञान होगी तो हमारे पैसे बचने के साथ साथ हम भी Allopathy के जरिये होने वाले शरीर के दवाब से बच सकते है।

गिलोय का इस्तेमाल कैसे करे ? | giloy ka fayda

giloy ka fayda
giloy ka fayda

ऐसे तो गिलोय को हम बहुत ही तरह से इस्तेमाल कर सकते है और हर तरह से इस्तेमाल करने से फायदेमंद है ! इसको इस्तेमाल करने की प्रक्रिया बहुत ही सरल है आप इसको कई तरह से इसका काढ़ा, जूस, पेस्ट बनाकर अलग अलग तरीके से बनाकर इस्तेमाल कर सकते है । Market में अब गिलोय की Capsules , चूर्ण, Powder , और भी तरह तरह के products निकल गए है जिनका भी आप इस्तेमाल कर सकते है लेकिन अगर आप खुद से इसका इस्तेमाल घर पर करेंगे तो आपको इसका फायदा सीधे मिलेगा।

गिलोय का काढ़ा : आप गिलोय का काढ़ा बनाकर हर दिन सुबह खली पेट पि सकते है यह आपको थोड़ा कड़वा लग सकता है इसलिए आप इसमें सहद मिला सकते है । गिलोय का काढ़ा बनाने के लिए आप गिलोय की तने को हमदस्ते की मदद से थकुछ दे और उसको पानी में डालकर उबाल ले जब तक पानी रंग बदलता नहीं है तब तक इसको उबले।

अगर आपको खांसी की शिकायत है तो आप इसमें थोड़े मारीच भी दाल सकते है । पानी का रंग बदल जाने के बाद आप चूल्हे को बंद कर दे और जैसे ही पानी गुनगुना गरम रह जाता है उसको छान ले और गिलोय के रस में थोड़ा सेहद मिलकर गुनगुना गरम ही हर रोज खली पेट पिए जिससे आपके digestion system improve हो जाएगी और आपको Internal होने वाली बिमारियों से छुटकारा मिलेगी।

गिलोय का पानी : रात में सोने से पहले आप एक गिलास पानी में गिलोय के कुछ टुकड़े को थकुछ कर पानी में डाल दे और सुबह उठकर उस पानी को छान ले । उसके बाद जब आप खली पेट होंगे तब आप इसका पानी पि सकते है और बहुत साड़ी बिमारियों से बच सकते है।

गिलोय का paste : आप अगर गिलोय का इस्तेमाल अपने चेहरे और बाल पर करना चाहते है तो आप गिलोय के तने और पत्ते को पीस कर उसका paste बना ले ध्यान रहे पत्ते की मात्रा काम और तने की मात्रा को ज्यादा रखे और paste बना लेने के बाद उसको आप face mask की तरह भी इसका इस्तेमाल कर सकते है । बालों में गिलोय का पानी या फिर आप चाहें तो इसका पेस्ट भी लगा सकते है।

आप गिलोय के पाते को यु ही धोकर भी चाबा सकते है जो भी बहुत लाभदायी है। आप गिलोय के पत्ते से ज्यादा गिलोय के तने का प्रयोग करे जिससे आपका ज्यादा फायदे मिलेंगे। और आप लम्बे समय तक स्वस्थ रहेंगे। आप अगर इन सब में से कोई भी तरीके से गिलोय का सेवन नहीं कर पते है तो आप Patanjali का Giloy ghanvati tablet का भी istemal कर सकते है।

पतंजलि गिलोय घनवटी का प्रयोग कैसे करे | giloy ghanvati tablet uses in hindi

giloy ghanvati tablet uses in hindi
giloy ghanvati benefits in hindi

दोस्तों पतंजलि के तरफ से बहुत ही बढ़िया Product हमको मिला हुआ है जिसे आप Patanjali store से खरीद सकते है जिसका नाम Giloy ghanvati है जो गिलोय के तने से बानी हुई टेबलेट है। जिसके इस्तेमाल करने से आपको गिलोय से मिलने वाली सभी चमत्कारी लाभों का लाभ मिलता है और यह ज्यादा महंगा भी नहीं है जैसा की यह Patanjali की तरफ से है तो इसकी कोई Side effects भी नहीं है और बहुत ही लाभ दायक है। आप इस tablet को 5 से 12 साल के बच्चे को आधी आधी दिन में दो बार दे सकते हो। और अगर आप 12 साल से बड़े हो तो आप इस tablet को दिन में दो बार ले सकते हो।

अगर उम्र 5 साल से काम है और कोई प्रेग्नेंट महिला है तो आप इसे doctor की सलाह से ही ले ।aap इसका इस्तेमाल बदलते मौशम के समय में कर सकते है। आपको अगर यह Giloy ghanvati खरीदना है तो आप इसे amazon से भी खरीद सकते है amazon से खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे ।

दोस्तों आज हमने गिलोय के बारे में संपूर्ण जानकारी आपको दी है की गिलोय क्या है ? , गिलोय के फायदे क्या है ? , गिलोय का सेवन कैसे करते है ? , giloy का पेड़ कैसा दीखता है हमने इन सब महत्वपूर्ण बातों को आपको समझने की कोशिस की है। आशा करते है आपको हमारी बताई गयी जानकारी पसंद आयी होगी और आप जान गए होंगे की गिलोय क्या है ? और गिलोय के फायदे क्या है ?

गिलोय किसे नहीं खाना चाहिए

हालांकि गिलोय के लाभ हैं, कुछ स्थितियों में इसका सेवन नहीं करना उत्तेजना या अनुकूल नहीं हो सकता।

  • गर्भावस्था:
    गर्भवती महिलाओं को गिलोय का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • किडनी समस्याएँ:
    किडनी समस्याओं वाले व्यक्तियों को गिलोय का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

गिलोय जूस के फायदे

  • पाचन में सुधार:
    गिलोय जूस पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है और अपच को कम करने में मदद करता है।
  • त्वचा के लिए लाभकारी:
    गिलोय जूस त्वचा की स्वच्छता और चमक को बढ़ाता है।

गिलोय टेबलेट के फायदे

  • आराम दिलाने वाला:
    गिलोय टेबलेट शारीरिक थकान और थकान को दूर करने में मदद कर सकती है।
  • सुपाच्यु:
    गिलोय टेबलेट वयस्कों और बच्चों को सुपाच्यु और स्वस्थ रखने में मदद कर सकती है।

गिलोय के नुकसान

यदि गिलोय का सेवन अधिक हो जाए, तो कुछ लोगों को इसके कुछ नकारात्मक प्रभाव हो सकते हैं।

  • डायरिया:
    अधिक मात्रा में गिलोय का सेवन डायरिया का कार

ण बन सकता है।

  • नींद की समस्याएँ:
    कुछ लोगों को गिलोय से नींद की समस्याएँ हो सकती हैं।

गिलोय घनवटी

गिलोय घनवटी भी उपलब्ध हैं जो गिलोय के पाउडर को सुलभ रूप में प्रयोग करने का एक आसान तरीका प्रदान करती हैं।

गिलोय घनवटी के फायदे और नुकसान

  • सुरक्षित और प्राकृतिक:
    गिलोय घनवटी एक प्राकृतिक और सुरक्षित विकल्प हैं।
  • सही मात्रा:
    उचित विधि और मात्रा में लेने पर उनका कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं है।

नोट: गिलोय के किसी भी रूप का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

निष्कर्ष

गिलोय भारतीय जड़ी-बूटियों का एक अद्वितीय रूप है जिसे सेहत के कई पहलुओं में उपयोग किया जाता है। यह आयुर्वेदिक चिकित्सा में महत्वपूर्ण स्थान रखता है और सबसे आम रूप से उपयोग होने वाली जड़ी-बूटी में से एक है।

FAQs

  1. क्या गिलोय सेहत के लिए सुरक्षित है?
    हां, गिलोय सेहत के लिए सुरक्षित है, लेकिन उचित मात्रा में और डॉक्टर की सलाह से ही इसका सेवन करना चाहिए।
  2. क्या गिलोय का सेवन बच्चों के लिए सुरक्षित है?
    हां, बच्चों को गिलोय का सेवन करने में कोई अधिक समस्या नहीं है, लेकिन उन्हें डॉक्टर की सलाह से करना चाहिए।
  3. गिलोय का सेवन कितने दिनों तक करना चाहिए?
    गिलोय का नियमित सेवन व्यक्तिगत चिकित्सकीय सलाह के आधार पर किया जाना चाहिए।
  4. **ग

िलोय के किस प्रकार के उपयोग हो सकते हैं?**
गिलोय को रस, घनवटी, चूर्ण या कड़ी के रूप में उपयोग किया जा सकता है।

  1. क्या गिलोय का सेवन गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?
    गर्भवती महिलाओं को गिलोय का सेवन नहीं करना चाहिए, खासकर गर्भावस्था के पहले तिमाही में।

इस आलेख के माध्यम से हमने गिलोय के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की है और इसके लाभों और नुकसानों के बारे में जानकारी दी है। हालांकि, इसे उचित रूप से उपयोग करने के लिए डॉक्टर की सलाह जरूरी है।

Leave a Comment